Vivo X80 रिव्‍यू : कैमरा परफॉर्मेंस में कमाल!

वीवो (Vivo) की कैमरा सेंट्रिक फ्लैगशिप X सीरीज में X80 और X80 Professional अभी हाल ही में जोड़े गए हैं। Vivo X80 Professional को हम पहले ही रिव्यू कर चुके हैं और आज X80 पर फोकस करेंगे। यहां पर यह समझना जरूरी है कि वीवो ने लेटेस्ट एक्स सीरीज के नामों में कुछ बदलाव किया है। X80 असल में पिछले साल आए X70 Professional की जगह उतारा गया है न कि X70 की जगह। इसी तरह नया X80 Professional पिछले साल आए X70 Professional+ को रि‍प्लेस करता है। 

Vivo X80 में काफी अच्छा हार्डवेयर मिलता है जैसे MediaTek Dimensity 9000 SoC, Zeiss की जुगलबंदी के साथ एक ट्रिपल कैमरा सेटअप और एक बड़ी बैटरी जिसके साथ 80W फास्ट चार्जिंग भी है। क्या Vivo X80 उतना प्रीमियम है? पता करने के लिए मैंने इसका टेस्ट किया। 
 

वीवो X80 के इंडिया में प्राइस

Vivo X80 की भारत में कीमत 54,999 रुपये से शुरू होती है, जिसमें इसका बेस वेरिएंट 8 GB रैम और 128 GB स्टोरेज मॉडल आता है। रिव्यू के लिए मेरे पास इसका यही वेरिएंट था। इसका दूसरा वेरिएंट 12GB रैम और 256 GB स्टोरेज के साथ आता है जिसकी कीमत 59,999 रुपये है। कंपनी फोन को दो कलर्स- कॉस्मिक ब्लू और अर्बन ब्लू में पेश करती है। 
 

वीवो X80 डिजाइन

Vivo X80 अच्छी तरह से डिजाइन किया गया है और वो सारे एलीमेंट्स इसमें मौजूद हैं जो आप एक फ्लैगशिप स्मार्टफोन से उम्मीद कर सकते हैं। इसमें एक बड़ा डिस्प्ले है जिसके किनारे कर्व्ड हैं। इसने मुझे पुराने सैमसंग फ्लैगशिप स्मार्टफोन्स की याद दिला दी जिनमें ऐसा ही डिजाइन देखने को मिलता था। X80 का फ्रेम मेटल का बना है जो इसे एक प्रीमियम लुक देता है। राइट साइड में पावर और वॉल्यूम बटन दिए गए हैं, और ये भी मेटल के ही बने हैं। दबाने पर ये सॉलिड और क्लिकि फील देते हैं। 

फोन के टॉप और बॉटम में फ्लैट फ्रेम है। फोन के बॉटम में सिम-ट्रे स्लॉट, यूएसबी टाइप सी पोर्ट, प्राइमरी माइक्रोफोन और लाउडस्पीकर दिया गया है। टॉप पर इंफ्रारेड एमिटर, सेकंडरी माइक्रोफोन और अंग्रेजी के दो शब्दों में लिखा गया है- प्रफेशनल फोटोग्राफी (Skilled Pictures) जो कि बताता है कि कंपनी ने कैमरा पर खास फोकस किया है। 

फोन के रियर में दिया गया कैमरा मॉड्यूल काफी बड़ा है और ये रियर पैनल का एक तिहाई हिस्सा घेरे हुए है। ये थोड़ा बाहर भी निकला हुआ है लेकिन साइज में बड़ा होने के कारण फोन की स्थिरता पर असर नहीं डालता है। मॉड्यूल में तीन कैमरा सेंसर हैं साथ ही लेजर ऑटोफोकस हार्डवेयर और एक डुअल एलईडी फ्लैश भी दिया है। 

फोन का बैक पैनल ग्लास का बना है और अर्बन ब्लू वेरिएंट पर वीवो ने इसे मैटे फिनिश में दिया है। यह फिनिश आसानी से उंगलियों के निशान इस पर नहीं पड़ने देती। फोन का रंग काफी यूनीक है और बाकी प्रतिद्वंदियों से फोन अलग ही खड़ा दिखाई देता है। अगर आपको ज्यादा बोल्ड कलर्स पसंद नहीं है तो आप कॉस्मिक ब्लू के साथ भी जा सकते हैं। कंपनी ने बॉक्स के अंदर एक केस भी दिया है जिसमें फॉक्स लेदर फिनिश है। 

Vivo X80 एक बड़ा फोन है और 206 ग्राम वजन के साथ आता है। एक हाथ से इस्तेमाल में फोन का वजन महसूस होता है, लेकिन कंपनी ने वजन को अच्छी तरह से बैलेंस किया है इसलिए यह हाथ को ज्यादा थकावट नहीं देता। 
 

वीवो X80 स्‍पेसिफ‍िकेशंस एंड सॉफ्टवेयर

Vivo X80 में 6.78 इंच का एमोलेड डिस्प्ले है जिसका रेजॉल्यूशन फुल एचडी प्लस है। इसमें 120Hz का रिफ्रेश रेट दिया गया है और 240Hz का टच सैम्पलिंग रेट है। स्क्रैच प्रोटेक्शन के लिए यह Schott’s Xensation Up ग्लास का इस्तेमाल करता है। फोन में इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर भी दिया गया है। 

Vivo X80 भारत में आने वाला पहला ऐसा स्मार्टफोन है जो MediaTek Dimensity 9000 प्रोसेसर से लैस है। यह चिप 4nm तकनीक पर बनी है और ऑक्टाकोर डिजाइन के साथ है। इसमें सिंगल ARM Cortex-X2 कोर है जो 3.2GHz पर क्लॉक किया गया है, और तीन Cortex-A710 परफॉर्मेंस कोर हैं जिन्हें 2.85GHz पर क्लॉक किया गया है। इसके अलावा यह चार Cortex-A510 एफिशिएंसी कोर के साथ आता है जिन्हें 1.8GHz पर क्लॉक किया गया है। X80 में वीवो की V1+ इमेजिंग चिप है। कंपनी का कहना है कि उसने फोन में बड़ा वेपर कूलिंग चैम्बर लगाया है जिससे इसका तापमान कंट्रोल में रहता है। दोनों ही वेरिएंट्स में 4GB स्टोरेज को रैम की तरह इस्तेमाल करने का ऑप्शन मिलता है। 

Vivo X80 में 4,500mAh बैटरी है और 80W फास्ट चार्जिंग का सपोर्ट दिया गया है। चार्जर बॉक्स में ही मिल जाता है। कनेक्टिविटी के लिए इसमें Bluetooth 5.3, Wi-Fi 6, 9 5G बैंड, डुअल 4G VoLTE और NFC दिया गया है। इसमें 6 सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम दिया गया है जिसके साथ NavIC भी है। फोन को धूल और पानी से बचाव के लिए IP53 रेट किया गया है। फोन में वायरलेस चार्जिंग फीचर नहीं है। 

vivo

Vivo X80 में एंड्रॉयड 12 आधारित Funtouch OS 12 दिया गया है। मेरी यूनिट में मई 2022 का सिक्योरिटी पैच था। Funtouch OS 12 में कई तरह के कस्टमाइजेशन ऑप्शन मिल जाते हैं जिनमें कस्टम थीम भी शामिल हैं। इसका यूजर इंटरफेस काफी आसान है, लेकिन फोन में बहुत सारे ब्लॉटवेअर ऐप्स दिए गए हैं जो मुझे पसंद नहीं आया। इनमें से अधिकतर को अनइंस्टॉल किया जा सकता है। वीवो की अपनी ऐप्स जैसे ब्राउजर आदि ने मुझे बहुत परेशान किया। मुझे दिनभर स्पैम नोटिफिकेशन मिलते रहे। 

गेमर्स के लिए Funtouch OS 12 में एक अल्ट्रा गेम मोड दिया गया है। इसे किसी भी गेम में जाकर साइड बार से एक्सेस किया जा सकता है। इसमें फ्रेम इंटरपोलेशन फीचर दिया गया है जो गेमिंग के दौरान फ्रेम रेट बढ़ाने में मदद करता है। इसमें Eagle Eye View एन्हांस्मेंट फीचर मिलता है जो गेमिंग के दौरान व्यूइंग एक्पीरियंस को बढ़ा देता है। फोन में एक Esports मोड भी दिया गया है जो यूआई गेस्चर्स, नोटिफिकेशंस को ब्लॉक करके सीपीयू को गेमिंग के लिए फ्री कर देता है। कंपनी ने इसके साथ एंड्रॉयड के तीन जेनरेशन और तीन साल तक सिक्योरिटी पैच अपडेट्स देने का वादा किया है। 
 

वीवो X80 की परफॉर्मेंस और बैटरी लाइफ

Vivo X80 में एक मॉडर्न फ्लैगशिप स्मार्टफोन के सभी फीचर्स मौजूद हैं। इसमें पंची एमोलेड डिस्प्ले है जिसके व्यूइंग एंगल अच्छे हैं। फोन में स्टीरिओ स्पीकर्स दिए गए हैं। मुझे ईयरपीस के मुकाबले बॉटम फायरिंग स्पीकर ज्यादा लाउड लगा। 

रोजमर्रा के इस्तेमाल में फोन अच्छा परफॉर्म करता है। ऐप्स लोड होने के लिए मुझे ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा। मेरे पास 8 GB रैम वाला वेरिएंट था जिसमें मुझे डिफॉल्ट रूप से इनेबल किया गया रैम एक्सटेंशन फीचर मिला। ऐप्स के बीच मल्टी टास्किंग करते समय मुझे कोई परेशानी नहीं हुई। अगर आप एक हैवी यूजर हैं, तो भी यह फोन आपको निराश नहीं करने वाला है। 

vivo

इसका इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर एक बार में ही फोन को अनलॉक कर रहा था। कंपनी फिंगरप्रिंट एनिमेशन को कस्टमाइज करने का ऑप्शन भी देती है। फेस रिकग्निशन फीचर ने भी बिना किसी परेशानी के काम किया। 

स्कोर्स की बात करें तो, इसने AnTuTu पर 983,481 पॉइंट्स का स्कोर किया। Motorola Edge 30 Professional और iQoo 9 Professional में लगभग यही स्कोर्स थे जिनमें Snapdragon 8 Gen 1 SoC देखने को मिलता है। गीकबेंच 5 में इसने सिंगल कोर में 1250 पॉइंट्स और मल्टी कोर टेस्ट में 4190 पॉइंट्स का स्कोर किया। GFXBench के कार चेज टेस्ट में इसने 71fps का स्कोर किया। 

vivo

मैंने इसमें Name of Responsibility: Cell खेला और गेम वेरी हाई और हाई ग्राफिक्स पर भी बिना किसी रुकावट के चला। गेम को मैंने 20 मिनट तक खेला जिसके बाद बैटरी 8 प्रतिशत कम हो गई। गेमिंग सेशन के बाद भी फोन गर्म नहीं था। इसका मतलब है कि इसके कूलिंग सिस्टम ने बढ़िया काम किया। 

परफॉर्मेंस के साथ ही इसकी बैटरी लाइफ भी काफी अच्छी है। मेरे पास यह डेढ़ दिन तक चला जिसमें सोशल मीडिया ऐप्स और गेमिंग के साथ कैमरा यूज भी शामिल रहा। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में यह 15 घंटे, 42 मिनट चला जो कि काफी अच्छा टाइम है। इसका 80W चार्जर काफी बड़ा है लेकिन Mi 11i HyperCharge के साथ मिलने वाले 120W चार्जर के जितना भारी नहीं है। आधे घंटे में फोन 80 प्रतिशत चार्ज हो गया और अगले 10 मिनट में यह पूरी तरह से चार्ज हो गया। 
 

वीवो X80 के कैमरा 

Vivo X-series के फोन्स को कैमरा परफॉर्मेंस के लिए जाना जाता है  और X80 से बहुत उम्मीदें हैं। फोन में 50MP प्राइमरी कैमरा है जिसमें ऑप्टिकल इमेज स्टेबलाइजेशन भी मिलता है। इसमें 12 मेगापिक्सल पोर्ट्रेट कैमरा भी मिलता है जिसमें 2X ऑप्टिकल जूम है। तीसरा लेंस 12 मेगापिक्सल का अल्ट्रावाइड एंगल कैमरा है। इसमें गिम्बल स्टेबलाइजेशन नहीं दिया गया है, जो Vivo X80 Professional के पोर्ट्रेट कैमरा में मिलता है। 

इसके कैमरा ऐप में जाइस (Zeiss) पोर्ट्रेट स्टाइल्स और जाइस सिनेमेटिक वीडियो बोके मोड मिलते हैं। वीवो ने इसमें कैमरा लेंस पर जाइस टी-कोटिंग दी है ताकि लेंस को धुंधला या खराब होने से बचाया जा सके। सेल्फी के लिए इस फोन में 32 मेगापिक्सल का कैमरा मिलता है। 

कैमरा ऐप इस्तेमाल करने में काफी आसान है। अलग-अलग शूटिंग मोड्स के बीच स्विच करना आसान है। फोन के कैमरा में बाय डिफॉल्ट वॉटरमार्क मिलता है, आप चाहें तो इसे डिसेबल भी कर सकते हैं। इसकी डे-लाइट परफॉर्मेंस काफी अच्छी है और फोटो में बढ़िया डाइनेमिक रेंज मिलती है। दूर की चीजें लैंड्सकेप मोड में भी अच्छी डिटेल्स के साथ दिखती हैं। डिफॉल्ट रूप से कलर थोड़े पंची दिखते हैं लेकिन Zeiss Pure Color इनेबल करने के बाद कलर्स असल सीन से लगभग मिलते दिखाई देते हैं। इसका अल्ट्रा वाइड कैमरा वाइड फील्ड ऑफ व्यू देता है लेकिन इसमें हल्की वॉर्म कलर टोन दिखती है। फोटो क्वालिटी प्राइमरी कैमरा जैसी नहीं है।

vivo
vivo

 
क्लोज अप शॉट्स काफी क्रिस्प आते हैं और फोटो बैकग्राउंड में अच्छा नेचरल बोके इफेक्ट आता है। पोर्ट्रेट मोड से लिए गए फोटो में एज डिटेक्शन अच्छा है। इस मोड में आउटपुट को कस्टमाइज करने के कई ऑप्शन मिल जाते हैं। फोन सब्जेक्ट के पास आने पर अपने आप ही अल्ट्रा वाइड एंगल कैमरा में स्विच कर लेता है। 12 मेगापिक्सल के रेजॉल्यूशन के कारण मैक्रो शॉट्स डिटेल्स के साथ बहुत अच्छे आते हैं। 

vivo
portrait

फोन ने इसकी लो-लाइट परफॉर्मेंस से मुझे हैरान कर दिया। यह सीन को जल्दी से भांप ले रहा था और कैमरा को लो-लाइट शॉट के लिए तैयार कर देता था। शॉट क्लिक करने में फोन ने तीन सेकंड लिए लेकिन डिटेल्स बहुत अच्छी आईं। लैंडस्‍केप शॉट्स में चीजें आसानी से पहचान में आ रही थीं। सीन डार्क होने पर कैमरा ऐप अपने आप ही नाइट मोड में स्विच करने के लिए सुझाव दे देता है। मैंने पाया कि स्ट्रीट लाइट में भी यह सीन्स को अच्छे से हैंडल कर लेता है। 

night
night

सेल्फी को यह 32 मेगापिक्सल के बाय डिफॉल्ट रेजॉल्यूशन में कैप्चर करता है। रेगुलर सेल्फी के अलावा पोर्ट्रेट मोड सेल्फी भी डिटेल्स के साथ कैप्चर हुईं। लो लाइट में स्क्रीन फ्लैश के साथ क्वालिटी काफी अच्छी आई। 

vivo
vivo

Vivo X80 में प्राइमरी कैमरा से 4K वीडियो शूट किए जा सकते हैं जबकि सेल्फी कैमरा 1080p तक वीडियो शूट कर सकता है। काश इसके सेल्फी कैमरा में भी 4K तक वीडियो रिकॉर्डिंग का ऑप्शन होता। डे लाइट के अलावा लो-लाइट में शूट किए गए वीडियो काफी स्टेबलाइज्ड थे और लो-लाइट में शूट करते हुए चलते समय थोड़ा बहुत शेक देखने को मिला। वीवो के इस फोन में Horizontal Line स्टेबलाइजेशन फीचर दिया गया है। फोन को 90 डिग्री घुमाने पर भी यह हॉरिजॉन्टल लाइन को वहीं पर लॉक किए रहता है। हालांकि, इस मोड में फुटेज केवल 1080p तक के रेजॉल्यूशन में ही रिकॉर्ड किए जा सकते हैं।
 

हमारा फैसला

अगर आप एक फ्लैगशिप एंड्रॉयड फोन देख रहे हैं और ज्यादा खर्च भी नहीं करना चाहते हैं तो Vivo X80 वो स्मार्टफोन हो सकता है। X70 Professional से यह थोड़ा महंगा आता है लेकिन किए गए सुधार इसकी कीमत के साथ पूरा न्याय करते हैं। वीवो का यह फोन स्ट्रॉन्ग परफॉर्मेंस, अच्छी बैटरी लाइफ, फास्ट चार्जिंग और दमदार कैमरा के साथ एक पूरा पैकेज बनकर आता है। MediaTek Dimensity 9000 SoC काफी पावरफुल है और यूजर्स को खुश रख सकता है। सॉफ्टवेयर एक ऐसा एरिया है जहां सुधार की हल्की गुंजाइश है। प्रीइंस्टॉल्ड ऐप्स और स्पैम नोटिफिकेशन कम हों तो यूजर एक्सपीरियंस और बेहतर हो सकता है। 

मैं इसका बेस वेरिएंट खरीदने की सलाह दूंगा जो 54,999 में बेहतर वैल्यू फॉर मनी देता है। जो इसका विकल्प देख रहे हैं, वे Realme GT 2 Professional या Motorola Edge 30 Professional के साथ जा सकते हैं। दोनों में ही लगभग समान परफॉर्मेंस मिलती है, थोड़ी कम कीमत के साथ।
 

Supply hyperlink

Leave a Comment